Shop by Category

1857 ki Kranti (Paperback)

Sold By:   DK Printworld
₹300.00

Short Descriptions

इस पुस्तक में 1857 की क्रान्ति को समग्रता के साथ एक नवीन ढंग से कतिपय नवीन तथ्यों के साथ बहुत ही रोचक शैली में सरल सहज एवं सुबोध ढंग से प्रस्तुत किया गया है।

More Information

ISBN 13 9788124609934
Book Language Hindi
Binding Paperback
Total Pages 260
Edition 1st
Release Year 2019
Publisher D.K. Printworld Pvt. Ltd.
Author B.K. Srivastava
Category Modern History   Military And Defence Studies  
Weight 450.00 g
Dimension 14.00 x 22.00 x 1.80

Product Details

इस पुस्तक में 1857 की क्रान्ति को समग्रता के साथ एक नवीन ढंग से कतिपय नवीन तथ्यों के साथ प्रस्तुत किया गया है। अजीमुल्ला खाँ एवं रंगोजी बापू ने किस तरह इंग्लैण्ड में क्रान्ति की पूर्व-पीठिका तैयार की? 1857 की क्रान्ति में बैजाबाई सिंधिया की क्या भूमिका थी? नवाब वाज़िद अली साहब के मन्त्री अली नक्की खाँ ने किस प्रकार बैरकपुर छावनी के सैनिकों को क्रान्ति हेतु प्रेरित किया? 1857 की क्रान्ति के आरम्भ में गंगादीन की क्या भूमिका थी? कानपुर का सतीचैरा एवं बीबी घर हत्याकाण्ड एवं झाँसी के झोंकन बाग हत्याकाण्ड में किस तरह अंग्रेज़ मौत के घाट उतारे गए। बेग़म ज़ीनत महल ने किस प्रकार अपने पति बहादुरषाह जफ़र को क्रान्ति का नेतृत्व करने हेतु प्रेरित किया? बेग़म हज़रत महल ने किस प्रकार अपने सहयोगियों के साथ ब्रिटिष सेना के छक्के छुड़ाए? रानी लक्ष्मीबाई ने भारत को अपना देष मानते हुए किस प्रकार सर्वप्रथम स्वराज की बात की एवं टीकमगढ़ की रानी लड़ई सरकार के दीवान नत्थे खाँ के घमण्ड को चूर-चूर किया? जब सागर के किले में 370 अंग्रेज़ स्त्री-पुरुष एवं बच्चों के घिरे होने का समाचार इंग्लैण्ड पहुँचा तो किस प्रकार उन्होंने सर्वश्रेष्ठ सेनापति ब्रिगेडियर जनरल ह्यूरोज़ को इन्हें मुक्त कराने भेजा? षाहगढ़ राजा बखतवली एवं बानपुर राजा मर्दनसिंह ने किस तरह अंग्रेज़ों को अत्यधिक परेषान किया कि वे उनके नाम से काँपने लगे। तात्या टोेपे ने अंग्रेज़ सेनापतियों को किस प्रकार खिजाया? ऐसा क्या हुआ कि अंग्रेज़ों ने रानी लक्ष्मीबाई एवं तात्या टोपे को सर्वश्रेष्ठ वीर होने की संज्ञा दी? किस प्रकार षडयन्त्र द्वारा अंग्रेज़ांे ने तात्या टोपे को पकड़वाया? उक्त समस्त घटना-क्रम को बहुत ही रोचक षैली में सरल सहज एवं सुबोध ढंग से इस पुस्तक में प्रस्तुत किया गया है।
whatsapp