Shop by Category

Sanatan Par Var

by   Ankeshwar Mishra (Author)  
by   Ankeshwar Mishra (Author)   (show less)
Sold By:   Garuda Prakashan
₹349.00₹329.00

Short Descriptions

यह पुस्तक भारत के बाहर से आये आक्रमणकारियों द्वारा सनातन धर्म और उसके अनुयायियों के खिलाफ किए गए अत्याचारों पर भी प्रकाश डालता है।

More Information

ISBN 13 979-8885750486
Book Language Hindi
Binding Paperback
Total Pages 180
Release Year 2022
Publishers Garuda Prakashan  
Category Religion   Culture and Heritage   
Weight 200.00 g
Dimension 12.90 x 19.80 x 1.01

Details

1.    इस पुस्तक में जातिवाद से संबंधित तमाम भ्रांतियों को स्पष्ट किया गया है। इसमें दर्शाया गया है कि सुनियोजित षड्यंत्र के तहत न केवल भारत में जातिवाद का बीज बोया गया बल्कि उसे पल्लवित और पोषित करने के लिए विदेशी आक्रांताओं द्वारा हर संभव कदम उठाए गए। इस पुस्तक में स्पष्ट किया गया है कि प्राचीन भारतीय समाज में जातिवाद नहीं बल्कि वर्ण व्यवस्था थी, जिस पर आज के अर्थशास्त्र का सिद्धांत “डिवीजन ऑफ लेबर” आधारित है।

यह पुस्तक भारत के बाहर से आये आक्रमणकारियों द्वारा सनातन धर्म और उसके अनुयायियों के खिलाफ किए गए अत्याचारों पर भी प्रकाश डालता है।

 

whatsapp